ईसाई धर्म छोड़कर हिंदू बने बीजेपी प्रत्याशी विविन टोप्पो, कहा- न मुझे किसी ने लालच दिया, न डराया


सागर. मध्य प्रदेश के सागर जिले में पार्षद उम्मीदवार विविन टोप्पो ने नगर पालिका चुनाव से ठीक पहले ईसाई से हिंदू बनने की घोषणा की है. उन्होंने इसके लिए जिला कलेक्टर को शपथ-पत्र भी सौंप दिया है. धर्म परिवर्तन की कानूनी प्रक्रिया वे जल्द पूरी करेंगे. टोप्पो जिले के उपनगर मकरोनिया में रहते हैं और वार्ड 15 (गोपेश्वर वार्ड) से चुनाव लड़ रहे हैं. उनका कहना है कि वह बचपन से ईसाई धर्म से जुड़े रहे हैं, लेकिन उनके पूर्वज सनातन धर्म को मानने वाले गौंड (आदिवासी) थे. गौंड अनुसूचित जनजाति में आते हैं. अब वे अपनी आस्था के चलते बिना प्रलोभन और भय के ईसाई धर्म छोड़कर सनातन धर्म से जुड़ रहे हैं.

गौरतलब है कि विविन टोप्पो ने शुक्रवार को धर्म परिवर्तन संबंधी कानूनी प्रक्रिया के लिए बाकायदा कलेक्टर को शपथ-पत्र दिया. आगे की कानूनी कार्रवाई वह जल्द पूरी करेंगे. शुक्रवार को उन्होंन पुरोहितों को घर बुलवाया और उनसे घर में अनुष्ठान कराए. टोप्पो ने इसका एक वीडियो भी जारी किया. वीडियो में विविन अपने सहयोगी के साथ पंडित द्वारा मंत्र उच्चार करवाकर पूजा-पाठ कर रहे हैं. वीडियो में वे गंगाजल से पूजन और हवन भी करते हुए नजर आ रहे हैं. इसमें पंडित ने विविन से धर्म परिवर्तन करने का कारण पूछा तो उन्होंने कहा कि मुझे हिंदू धर्म पसंद है, मेरे पूर्वज हिंदू थे, इसलिए हिंदू धर्म अपना रहा हूं.

लोगों को विकास की उम्मीद
धर्म परिवर्तन करने पर इलाके में विविन की चर्चा हो रही है. इस मौके पर विविन ने कहा कि उनके परिवार की जड़ें सनातनी ही हैं. उन्हें यह धर्म इसकी विविध संस्कृति और पवित्रता की वजह से पसंद है. दूसरी ओर, लोगों ने भी उनकी तारीफ की. कई लोग अनुष्ठान के दौरान घर के बाहर खड़े होकर उसका हिस्सा बने. लोगों का कहना था कि जिसे जो पसंद हो वह अपनाना चाहिए. सभी को स्वतंत्रता है कि वह किसी भी धर्म को अपना सकें. इस दौरान लोगों ने कहा कि उम्मीद है कि विविन इस इलाके से जीत जाएं और यहां का विकास करें. अब सागर जिले में ये देखना दिलचस्प होगा कि उनके धर्म परिवर्तन को नेता किस नजर से देखते हैं.

Tags: Mp news, Sagar news



Source link

%d bloggers like this: